Author Archives: shinubhaskar

संपादकीय Editorial ( अप्रैल April-2013 )

आजकल सूचना प्रौद्योगिकी के आगमन से पत्रकारिता का स्वरूप व माध्यम दोनों ही परिवर्तित हो रहे हैं ।  आज मुद्रित पत्रिकाओं का स्थान वेब पत्रिकाएँ लेती जा रही हैं ।आज… Read more »

संपादकीय Editorial ( मई May-2013 )

आजकल सूचना प्रौद्योगिकी के आगमन से पत्रकारिता का स्वरूप व माध्यम दोनों ही परिवर्तित हो रहे हैं ।  आज मुद्रित पत्रिकाओं का स्थान वेब पत्रिकाएँ लेती जा रही हैं ।आज… Read more »

संपादकीय Editorial ( जून June-2013 )

आजकल सूचना प्रौद्योगिकी के आगमन से पत्रकारिता का स्वरूप व माध्यम दोनों ही परिवर्तित हो रहे हैं ।  आज मुद्रित पत्रिकाओं का स्थान वेब पत्रिकाएँ लेती जा रही हैं ।आज… Read more »

Spiritual Thoughts

आध्यात्मिक चिंतन मनुष्य को असीम शांति प्रदान करता है ।  यह संसार तो मात्र रैन-बसेरा है, मनुष्य का अंतिम पड़ाव तो मोक्ष ही है ।  मोक्ष प्राप्ति के लिए अपने आराध्य की पूजा या… Read more »

Linguistic Research

चीन की राजभाषा ‘ मंदारिन ‘  संसार में सर्वाधिक बोली जानेवाली भाषा है ।  यह  प्रचारित किया जाता है , परन्तु सत्य यह है कि संसार में सर्वाधिक बोली जानेवाली भाषा हिन्दी है । ‘Mandarin’ the Chinese Official Language… Read more »

संयुक्त राष्ट्र संघ में हिन्दी Hindi in United Nations Organisation

हम हिन्दी को संयुक्त राष्ट्र संघ की अधिकृत भाषा के रूप में स्थापित करना चाहते हैं ।  इसके लिए हम अपने पाठकों का  समर्थन चाहते हैं ।  इस ब्लाग के माध्यम से… Read more »